Tuesday, September 22, 2009

नेता - देश को गडडे मे धकेलता ---

चुनाव के समय
आप बहुत नम्र दिखते है
आप बहुत विनम्र दिखते है
अरे मै तो भूल गया था
की आप नेता है ----------,
आप संसद मे प्रश्न उठाते
बदले मे पैसे कमाते
आप तो पीठ मे छूरा
भोकने मे उस्ताद है
अरे मै तो भूल गया था
की आप नेता है------------

अरे आज जिनके आगे
वोटो के लिये सर झुकाते है
चुनाव जितने के बाद आप उनको
तबियत से धकियाते है
अरे मै तो भूल गया था
की आप नेता है,----------

पहले आप एक दुसरे पर संसद मे माईक
और कुर्सी खींच कर मारते है
आज आप कुर्सी के लालच मे एक दुसरे
की दोस्ती कि डींगे हाकते है
अरे मै तो भूल गया था
की आप नेता है,----------

ऐसे लोग देश को चला रहे है
देश पे मर मिटने वाले शहीदों के
अरमानो को जला रहे है

हे प्रभो ! नही नही हे जनता !
आप ही इस देश को बचा सकते है
देश के गद्दारो को सबक सिखा सकते है

No comments: