Thursday, August 6, 2009

पात्रता

बन सकते है वही मित्र
जिनका ह्र्दय हो पवित्र
साफ़ ह्र्दय की शत प्रतिशत मात्रा
मित्रता की एक ही पात्रता

2 comments:

Kishore Choudhary said...

खूबसूरत है, पढ़ कर अच्छा लगा क्या इन दिनों व्यस्त हैं आप ?

Servesh Dubey said...

प्रिय किशोर जी,
धन्यवाद उत्साह वर्धन हेतु, सच कहा आप्ने अभी व्यस्तता है लेकिन अतिशीघ्र मै समय निकाल लूगा। और आप अपना सम्पर्क सूत्र दे आप्से बात करके अच्छा अनुभव करुगा --- धन्यवाद
--- सर्वेश दुबे --

+91-9797425465